Home »SME »Industry Voice» BIF And EY Releases Research Paper On Mobile Handset Industry

4 साल में 3 गुणा बढ़ जाएंगे मोबाइल हैंडेसट, डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री को फायदे की उम्‍मीद

4 साल में 3 गुणा बढ़ जाएंगे मोबाइल हैंडेसट, डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री को फायदे की उम्‍मीद
 
नई दिल्‍ली। डिजिटलाइजेशन की ओर बढ़ रहे इंडिया में मोबाइल हैंडसेट इंडस्‍ट्री को खासा फायदा होगा। साल 2020 तक मोबाइल हैंडसेट की संख्‍या लगभग तीन गुणा बढ़ जाएगी। ब्रॉडबैंड इंडिया फोरम और अर्नस्‍ट एंड यंग (ईवाई) के रिसर्च में कहा गया है कि साल 2015 में 23 करोड़ 80 लाख मोबाइल हैंडसेट थे, साल 2020 तक हैंडसेट की संख्‍या बढ़कर 68 करोड़ 80 लाख तक पहुंच जाएगी। हालांकि रिसर्च में कहा गया है कि जीएसटी लागू होने के साथ साथ यदि डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री को इन्‍सेंटिव नहीं‍ दिए गए तो इस ग्रोथ का डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री को अधिक फायदा नहीं होगा।
 
जीएसटी में शामिल हों इन्‍सेंटिव
 
रिसर्च में कहा गया है कि केंद्र व राज्‍य सरकारों द्वारा इंडस्‍ट्री को दिए जा रहे इन्‍सेंटिव जीएसटी में शामिल हो जाएंगे। इससे डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री को मोबाइल सेक्‍टर में हो रहे ग्रोथ का ज्‍यादा फायदा नहीं मिलेगा। ऐसे में, जीएसटी के साथ-साथ कुछ इन्‍सेंटिव जारी रखने चाहिए, ताकि डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री भी साथ-साथ ग्रोथ करे और इम्‍पोर्ट पर निर्भरता कम हो।
 
जीएसटी से होगा फायदा
 
इस मौके पर मिनिस्‍ट्री ऑफ इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स एंड इंफॉर्मेशन टैक्‍नोलॉजी की सेक्रेट्री अरुणा सुंदराराजन ने कहा कि सरकार ईज ऑफ डुइंग बिजनेस के तहत इंडस्‍ट्री को हर तरह की सुविधाएं उपलब्‍ध कराने की कोशिश कर रही है। जीएसटी भी उसका एक हिस्‍सा है। उन्‍होंने कहा कि देश में इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स आइटम की डिमांड तेजी से बढ़ रही है, जिसके चलते दुनिया भर के बड़े से बड़े ब्रांड देश में आना चाहते हैं। इससे सरकार के मेक-इन-इंडिया अभियान को फायदा होगा और इन्‍वे‍स्‍टमेंट के साथ साथ जॉब्‍स की संख्‍या बढ़ेगी।
 
स्‍मार्ट फोन पर फोकस
 
बीआईएफ के प्रेसिडेंट टीवी रामाचंद्र ने कहा कि डिजिटल इंडिया मुहिम के चलते देश में स्‍मार्ट फोन की डिमांड बढ़ रही है और इंडस्‍ट्री भी स्‍मार्ट फोन पर विशेष फोकस कर रही है। सरकार यदि जीएसटी में कुछ इन्‍सेंटिव को शामिल करती है तो उससे डोमेस्टिक इंडस्‍ट्री को काफी फायदा मिलेगा।
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY