Home »Personal Finance »Retirement »Update» Authorities Eye Fast-Track Registry Of Over 50k Flats In Noida

बॉयर्स के लिए फास्‍ट ट्रैक रजिस्‍ट्री स्‍कीम का प्रस्‍ताव, 1 फ्लैट को भी मिलेगी एनओसी

बॉयर्स के लिए फास्‍ट ट्रैक रजिस्‍ट्री स्‍कीम का प्रस्‍ताव, 1 फ्लैट को भी मिलेगी एनओसी
 
नई दिल्‍ली।नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्‍सप्रेसवे अथॉरिटी में अब बॉयर्स को फ्लैट के रजिस्‍ट्री के लिए फास्‍ट ट्रैक व्‍यवस्‍था की जा रही है। इस व्‍यवस्‍था में 1 कंप्‍लीट फ्लैट को भी रजिस्‍ट्री के लिए अथॉरिटी से एनओसी मिल जाएगी। इसके लिए बिल्‍डर को इस फ्लैट के अनुरूप शुल्‍क के साथ 10 फीसदी सरचार्ज देना होगा। फिलहाल इस योजना को अभी यूपी सरकार से हरी झंडी मिलने की देरी है।
 
50 हजार बॉयर्स होंगे लाभान्वित
ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के सीईओ दीपक अग्रवाल ने बताया कि इस व्‍यवस्‍था से तीनों अथॉरीटीज के लगभग 50 हजार बॉयर्स को लाभ होगा। अभी तक हजारों मामलों में देखा गया है कि बिल्‍डर किसी प्रोजेक्‍ट का अथॉरिटी में शुल्‍क नहीं जमा करते हैं, इसलिए बॉयर्स फ्लैट की रजिस्‍ट्री नहीं करा पाते। वहीं, किसी-किसी प्रोजेक्‍ट में अगर कुछ फ्लैट पूरे हैं और कुछ अधूरे तो पूरे हो चुके फ्लैट की रजिस्‍ट्री भी बॉयर्स नहीं करा सकते हैं। लेकिन, फास्‍ट ट्रैक रजिस्‍ट्री व्‍यवस्‍था की मंजूरी के बाद एक फ्लैट की पूरी होने के बाद यदि बॉयर चाहे तो एनओसी मांग सकता है। इसमें बिल्‍डर को पूरे प्रोजेक्‍ट में से एक फ्लैट के अनुपात में शुल्‍क व 10 फीसदी सरचार्ज देना होगा।
 
बिना एनओसी के ही रह रहे लोग
अग्रवाल ने बताया कि अकेले ग्रेटर नोएडा में ही लगभग 20 हजार बॉयर्स को तत्‍काल प्रभाव से इस योजना का लाभ मिल सकता है। जबकि, यमुना एक्‍सप्रेसवे और नोएडा में संख्‍या इससे थोड़ी-थोड़ी कम है। जबकि, 17 से 20 हजार बॉयर्स ऐसे हैं जिनके फ्लैट पूरे हो चुके हैं और वे बिना एनओसी व रजिस्‍ट्री के ही उनमें रह रहे हैं। इस व्‍यवस्‍था से ऐसे बॉयर्स को ज्‍यादा लाभ होगा। तीनों अथॉरिटी के बोर्ड ने फास्‍ट ट्रैक रजिस्‍ट्री के प्रपोजल को सरकार के पास भेज दिया है। अग्रवाल के अनुसार जल्‍द ही सरकार इस पर सकारात्‍मक निर्णय दे सकती है। 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY