Home »Personal Finance »Mutual Fund »Update» Tips To Rake In Higher ROI From Mutual Fund Investment

म्युचुअल फंड में निवेश से पहले इन बातों को जान लें, मिलेगा जोरदार रिटर्न

 
नई दि‍ल्ली।निवेश करने के लिए लोगों के पास तमाम विकल्प होते हैं, लेकिन सबसे सही विकल्प वही होता है जहां जोखिम कम और रिटर्न अधिक होता है। इसी तरह का एक विकल्प है म्युचुअल फंड। शेयर मार्केट में निवेश के मुकाबले म्‍युचुअल फंड में जोखिम कम और बेहतर रिटर्न की संभावना अधिक होती है। लेकिन सही जानकारी के अभाव में म्युचुअल फंड में किए हुए निवेश पर भी कई दफा उम्‍मीद के मुताबिक रिटर्न नहीं मिल पता है। ऐसे में मनी भास्कर आपको बता रहा है म्युचुअल फंड में निवेश का स्मार्ट तरीका, जो आपको जोखिम से बचाकर जोरदार रिटर्न दिलाने में मददगार होगा। 
 
फंड मैनेजर का रोल सबसे अहम
 
म्‍युचुअल फंड में किए हुए निवेश पर मिलने वाले रिटर्न में फंड मैनेजर की भूमिका अहम होती है। इसलिए म्युचुअल फंड में निवेश से पहले फंड मैनेजर की निवेश प्रक्रिया, ट्रैक रिकॉर्ड, विशेषज्ञता आदि को जानना बहुत जरूरी होता है। फंड मैनेजर के विषय में जानकारी सभी फंड हाउस उपलब्ध कराती है।
 
म्युचुअल फंड का चुनाव
 
म्युचुअल फंड में  निवेश से पहले उसका ट्रैक रिकॉर्ड देखना चाहिए। आम तौर पर निवेशक 6 महीने से एक साल तक की अवधि का विश्लेषण करते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए। फंड का विश्लेषण 4 से 5 साल की अवधि को लेकर करना चाहिए। इसके अलावा फंड द्वारा अलग-अलग समय में मिले रिटर्न को भी देखना चाहिए। हमेशा याद रखना चाहिए कि फंड के पिछले प्रदर्शन के दोहराए जाने की कोई गारंटी नहीं होती है।
 
अगली स्‍लाइड में पढ़िए क्‍यों बड़ा नाम नहीं है निवेश का पैमाना...
 
तस्‍वीरों का इस्‍तेमाल प्रस्‍तुतिकरण के लिए किया गया है।
 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY