Home »Personal Finance »Insurance »Update» Tips To Cut Down Car Insurance Premium

इन तरीकों से बचा सकते हैं अपनी कार के इन्‍श्‍योरेंस का प्रीमियम

 
नई दिल्‍ली। अगर, आप कार के इन्‍श्‍योरेंस प्रीमियम अधिक होने की वजह से थर्ड पार्टी इन्‍श्‍योरेंस लेने की सोच रहे हैं तो थोड़ा रुकिए। आप बिना थर्ड पार्टी इन्‍श्‍योरेंस लिए या किसी दूसरी कंपनी की इन्‍श्‍योरेंस पॉलिसी में शिफ्ट हुए ही प्रीमियम को घटा सकते हैं। हम आपको यहां बता रहे हैं कि कार इंश्योरेंस प्रीमियम के रूप में जाने वाली बड़ी रकम का खर्च आप किस तरह कम कर सकते हैं।
 
 
मामूली डैमेज को नहीं करें क्‍लेम
 
कार के इन्‍श्‍योरेंस का प्रीमियम कम करने के लिए मामूली डैमेज को क्‍लेम करने से बचें। अगर, आपकी कार में कहीं स्‍क्रेच लगता है या इंडिकेटर टूटता है तो इसको खुद से ठीक करा लें। ऐसा करके आप नो क्‍लेम बोनस का लाभ उठा सकते हैं। इसको ऐसे समझते हैं कि अगर आपकी कार का इंन्‍श्‍योरेंस प्रीमियम 10,000 रुपए है तो नो क्‍लेम बोनस करीब 35 फीसदी मिलेगा। यानी, आपको 3,500 रुपए नो क्‍लेम बोनस के तौर पर अगली बार इन्‍श्‍योरेंस को रीन्‍यूअल कराने में मिल जाएगा। मामूली डैमेज में अगर आपको 1000 रुपए खर्च भी आता है तो आप 2,500 रुपए की सेविंग कर सकते हैं।
 
एड ऑन कवर लें
 
नो क्‍लेम बोनस (एनसीबी) को सुरक्षित रखने का एक दूसरा तरीका है- एड ऑन प्रोटेक्‍टर कवर। अगर, आप एड ऑन प्रोटेक्‍टर कवर लिए हुए हैं और क्‍लेम करते हैं तो यह भी आपके एनसीबी को सु‍रक्षित रखता है। इसको ऐसे समझते हैं कि अगर आप क्‍लेम नहीं करते तो आपको एनसीबी प्रीमियम का 35 फीसदी मिलता है। अब जब आप क्‍लेम करते हैं और एड ऑन कवर पहले से लिए रहते हैं तो यह आपके एनसीबी को पूरी तरह समाप्‍त नहीं होने देता है। आपको 35 फीसदी एनसीबी नहीं मिलकर 25 फीसदी मिलता है। इस तरह से आप क्‍लेम करने के बाद भी कम प्रीमियम चुकाने में सफल रहते हैं।
 
अगली स्‍लाइड में पढ़ें रीपेयर नेटवर्क गैरेज में कराने के फायदें...
तस्‍वीरों का इस्‍तेमाल प्रस्‍तुतिकरण के लिए किया गया है। 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY