Home »Personal Finance »Financial Planning »Update» Labour Minister Bandaru Dattatrey Gave Signal For 12 Persent Investment

ईपीएफओ करेगा इक्विटी मार्केट में 12 फीसदी इन्वेस्टमेंट, लेबर मिनिस्टर ने दिए संकेत

ईपीएफओ करेगा इक्विटी मार्केट में 12 फीसदी इन्वेस्टमेंट, लेबर मिनिस्टर ने दिए संकेत
नई दिल्ली। कर्मचारी भविष्य निधि आयोग (ईपीएफओ) इक्विटी मार्केट में 12 फीसदी तक इन्वेस्टमेंट कर सकता है। लेबर मिनिस्टर बंडारू दत्तात्रेय ने इस बात का संकेत देते हुए कहा कि यह फैसला सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की 22 जुलाई की मीटिंग में लिया जा सकता है। 
 
ईटीएफ में किए इन्वेस्टमेंट में 7.5 फीसदी की ग्रोथ
 
दत्तात्रेय के मुताबिक, ईपीएफओ ने बीएसई और निफ्टी के दो अलग-अलग ईटीएफ में 30 जून तक 7468 करोड़ रूपए इन्वेस्ट किए थे। अभी इन दोनों इन्वेस्टमेंट की वैल्यू 8,024 करोड़ रूपए हो गई है, जो 7.5 ग्रोथ है। इसेे देखते हुए ईपीएफओ, बीएसई और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज से बात कर रहा है और इस बारे में जल्द ही फैसला लिया जाएगा।
 
मार्केट को है पैसे की जरूरत
लेबर मिनिस्टर ने कहा कि अभी मार्केट को भी पैसे की जरूरत है। फाइनेंस मिनिस्ट्री ने ईपीएफओ को 5 से 15 फीसदी इन्वेस्टमेंट करने की मंजूरी दे रखी है। यह इन्वेस्टमेंट लांग टर्म में होगा। मार्केट में मौजूदा हालत के हिसाब से यह 10 से 12 फीसदी तक हो सकता है।
 
ईपीएफओ के पास 1.35 लाख करोड़ इन्वेस्टेबल इनकम
 
ईपीएफओ के पास इस साल 1.35 लाख करोड़ रुपए की इन्वेस्टेबल इनकम है। यह इनकम उसे कई जगह इन्वेस्टमेंट के जरिए हुई है। इसके अलावा इसमें अलग से भी पैसा डाला गया है।  
 
9 करोड़ पीएफ सब्सक्राइबर करने का लक्ष्य
 
ईपीएफओ का लक्ष्य पीएफ सब्सक्राइबर्स का बेस 6 करोड़ से बढ़ाकर 9 करोड़ करने का है। इसके लिए 10 कर्मचारियों वाली कंपनी को भी पीएफ के दायरे में लाया जाएगा। अभी 20 कर्मचारियों वाली कंपनी ही पीएफ के दायरे में होती हैं। इसके अलावा रूरल, सेमी अर्बन, कांट्रैक्ट वर्कर्स को भी ईपीएफओ के दायरे में लाने का प्लान है। अभी ईपीएफओ के 10 जोनल ऑफिस हैं, जिसे 21 करने का प्लान है।

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY