Home »Market »Stocks» Apple Tops Fortune's Most Admired Companies List

फॉर्च्यून की मोस्ट एडमायर्ड कंपनियों की लिस्ट में Apple टॉप पर, सैमसंग हुई बाहर

न्यूयॉर्क.फॉर्च्यून मैगजीन की मोस्ट एडमायर्ड कंपनियों की लिस्ट में एप्पल टॉप पर रही है, लेकिन सैमसंग टॉप 50 लिस्ट से बाहर हो गई है। सैमसंग पर उसके गैलेक्सी नोट7 में आग लगने की घटनाओं का खासा असर पड़ा। लिस्ट में अमेजन दूसरे और स्टारबक्स तीसरे नंबर पर रही। लिस्ट में कोई भारतीय कंपनी नहीं है। प्रेशर में सैमसंग... 
 
 
 
- फॉर्च्यून के मुताबिक इस साल गैलेक्स नोट7 की बैटरी में आग लगने की घटनाओं के बाद सैमसंग की रेप्युटेशन बिगड़ी है, जिसके चलते यह लिस्ट से बाहर हो गई है। वाइस चेयरमैन ली जे-यॉन्ग की हाल में गिरफ्तारी से भी सैमसंग दबाव में है।
 
टॉप 10 लिस्ट में इन कंपनियों को मिली जगह
- टॉप 10 लिस्ट में शामिल अन्य कंपनियों में बर्कशायर हैथवे, डिज्नी, अल्फाबेट, जनरल इलेक्ट्रिक, साउथवेस्ट एयरलाइन्स, फेसबुक और माइक्रोसॉफ्ट रहीं।
- अमेरिका की फॉर्च्यून मैगजीन के मुताबिक इन कंपनियों के लिए 3800 एग्जीक्यूटिव्स, एनालिस्ट्स, डायरेक्टर्स और एक्सपर्ट्स ने वोट किए। इसके आधार पर ही लिस्ट तैयार की गई है।
-गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट इस लिस्ट में छठे नंबर पर रही है, जबकि बीते साल दूसरे पायदान पर थी।
 
ऐसे बनी फॉर्च्यून की लिस्ट
- मैगजीन ने कहा, ‘हमने 1500 कंपनियों के साथ शुरुआत कीं, जिनमें 1 हजार कंपनियां अमेरिकी हैं और 500 गैर अमेरिकी हैं। इसमें ऐसी कंपनियों को लिया गया, जिनका रेवेन्यू 10 अरब डॉलर या उससे ज्यादा है।’ छंटनी के बाद इसमें 28 देशों की 680 कंपनियां रह गईं। फॉर्च्यून ने कहा, ‘एग्जीक्यूटिव्स ने इन 680 कंपनियों के लिए वोटिंग की।’
 
 
वाइस प्रेसिडेंट की गिरफ्तारी से दबाव में है सैमसंग
-साउथ कोरियाई कंपनी सैमसंग इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स के उत्‍तराधिकारी और कंपनी के वाइस चेयरमैन ली जे योंग को शुक्रवार को भ्रष्‍टाचार के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया।
इसके चलते कंपनी पर दबाव काफी बढ़ गया है। आरोप है कि कंपनी पॉलिसी की मदद के लिए योंग ने 4 करोड़ डॉलर की घूस दी। 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY