Home »Industry »Auto» Mini Tractors Demand Increase In Agriculture; Sales May Reach 30,000 In March

स्मॉल ट्रैक्टर ने कंपनियों के लिए बनाया नया सेगमेंट, इस साल कुल सेल्स में 5 फीसदी होगी हिस्सेदारी

स्मॉल ट्रैक्टर ने कंपनियों के लिए बनाया नया सेगमेंट, इस साल कुल सेल्स में 5 फीसदी होगी हिस्सेदारी
 
नई दि‍ल्‍ली। एग्रीकल्चर सेक्टर में बदलते स्टैण्डर्ड से ट्रैक्टर सेगमेंट में एक नया सेगमेंट उभर कर खड़ा हो रहा है। कंपनियों के अनुसार छोटी जोत और बदलते खेती के तरीकों की वजह से स्मॉल ट्रैक्टर की तेजी से डिमांड बढ़ रही है।  इस सेगमेंट की बड़ी कंपनि‍यों जैसे महिंद्रा, एस्‍कॉर्ट और कैपटन ट्रैक्‍टर्स को उम्‍मीद है कि इस साल बेहतर मानसून को देखते हुए कि‍सानों की ओर से स्मॉल ट्रैक्‍टर की सेल्‍स में ज्यादा बढ़ोतरी की उम्मीद है।  
 
बढ़ रही है डि‍मांड
 
महिंद्रा एंड महिंद्रा के वरि‍ष्‍ठ अधि‍कारी ने moneybhaskar.com को बताया कि‍ मि‍नी ट्रैक्‍टर का मार्केट भारत के दूसरे हि‍स्‍से में भी बढ़ रही है। मि‍नी ट्रैक्‍टर का इस्‍तेमाल अब केवल एग्रीकल्‍चर प्रोडक्‍ट्स में ही नहीं बल्‍कि‍ कार्गो और बि‍ल्‍डिंग मैटि‍रि‍यल के लि‍ए भी होने लगा है। मि‍नी ट्रैक्‍टर की एक और खासि‍यत है कि‍ वह पतली सड़कों पर चल सकता है साथ ही यह तेजी से सामान को भी एक जगह से दूसरी जगह पर लेकर जा सकता है। यही वजह है कि‍ इसकी डि‍मांड तेजी से बढ़ रही है।  
 
मार्च तक 30 हजार मि‍नी ट्रैक्‍टर बि‍कने की उम्‍मीद
 
भारत में ट्रैक्‍टर मार्केट करीब 5 लाख यूनि‍ट्स (सेल्‍स के हि‍साब से) सालाना है जि‍समें से स्मॉल ट्रैक्‍टर सेगमेंट की हि‍स्‍सेदारी करीब 4 फीसदी है। ट्रैक्‍टर इंडस्‍ट्री का मानना है कि‍ मार्च 2017 तक यह सेल्‍स 6 लाख यूनि‍ट्स हो जाएगी। वहीं, अच्‍छे मानसून के दम पर स्मॉल ट्रैक्‍टर सेगमेंट की सेल्‍स करीब 30 हजार यूनि‍ट्स रह सकती है।  
 
स्मॉल ट्रैक्‍टर का यूज
 
आमतौर पर स्मॉल ट्रैक्‍टर का इस्‍तेमाल रॉ फसलों जैसे कपास, मूंगफली और सोयाबीन जैसी फलसों के होता है। हालांकि‍, अब बड़े फसल कि‍सान जैसे गन्‍ना और दालों के लि‍ए भी मि‍नी ट्रैक्‍टर का इस्तेमाल कर रहे हैं।
 
अभी तक भारत के पश्‍चि‍मी इलाकों में मि‍नी ट्रैक्‍टर पॉपुलर है वो भी खासतौर पर गुजरात और महाराष्‍ट्र में। लेकि‍न अब दूसरे राज्‍यों जैसे राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, बि‍हार, उत्‍तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तमि‍लनाडु और कनार्टक में भी इसका मार्केट में बढ़ रहा है।  
 
ट्रैक्‍टर की सेल्‍स में इजाफा
 
नोटबंदी के बाद भी ट्रैक्‍टर की सेल्‍स में इजाफा दर्ज कि‍या गया है। महिंद्रा और एस्‍कॉर्ट की सेल्‍स जनवरी माह में बढ़ी है। जारी आंकड़ों के मुताबि‍क, महिंद्रा की ट्रैक्‍टर सेल्‍स में 6 फीसदी की ग्रोथ देखने को मि‍ली जबकि‍ उनकी डोमेस्‍टि‍क कार सेल्‍स 11 फीसदी गि‍री थी। वहीं, एस्‍कॉर्ट की ट्रैक्‍टर सेल्‍स में इसी अवधि‍ के दौरान 16 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है।

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY