Home »Experts »Personal Finance» Affordable Housing Sector May Boost Now, Says Expert

बजट से रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को होगा फायदा, अफोर्डेबल हाउसिंग को मिलेगा बूस्‍ट

बजट से रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को होगा फायदा, अफोर्डेबल हाउसिंग को मिलेगा बूस्‍ट
 
नई दिल्‍ली। नोटबंदी की वजह से सबसे बुरा असर रियल एस्‍टेट सेक्‍टर पर पड़ा था, लेकिन बजट 2017-18 से सेक्‍टर ने काफी राहत की सांस ली है। खासकर अफोर्डेबल हाउसिंग सेक्‍टर के लिए यह बहुत महत्‍वपूर्ण बजट रहा, जो कि इस समय देश की जरूरत है। इससे यह भी स्‍पष्‍ट हो गया है कि सरकार साल 2022 तक सबको घर देने के वादे को पूरा करने के लिए गंभीर है और यह टारगेट हासिल किया जा सकता है।
 
डेवलपर्स को होगा फायदा
 
रियल एस्‍टेट सेक्‍टर लंबे समय से मांग कर रहा है कि सेक्‍टर को इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर स्‍टेट्स दिया जाए। वित्‍त मंत्री ने एक हद तक सेक्‍टर की मांग मान ली है। उन्‍होंने अफोर्डेबल हाउसिंग को इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर सेक्‍टर का दर्जा दे दिया है, इसका डेवलपर्स को काफी फायदा होगा, क्‍योंकि अब डेवलपर्स भी समझ रहे हैं कि उन्‍हें अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्‍ट्स लॉन्‍च करने होंगे। कई डेवलपर्स अफोर्डेबल प्रोजेक्‍ट्स लॉन्‍च भी कर चुके हैं, इन डेवलपर्स को इंफ्रा का स्‍टेट्स मिलने का सीधा फायदा मिलेगा और अब और डेवलपर्स भी अफोर्डेबल प्रोजेक्‍ट्स लॉन्‍च्‍ करेंगे। इसकी वजह यह है कि इंफ्रा स्‍टेट्स मिलने के बाद बैंक डेवलपर्स को लोन में प्राथमिकता देंगे और मॉरटोरियम पीरियड बढ़ने से डेवलपर्स को काफी राहत मिलेगी।
 
लोन मिलने में होगी आसानी
 
बजट में नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) का टारगेट बढ़ाने का फैसला भी डेवलपर्स और बायर्स के पक्ष में जाएगा। इससे ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों को होम लोन मिलेगा, वहीं डेवलपर्स को भी लोन मिलने में आसानी होगी। नोटबंदी के बाद बैंकों के पास लिक्विडिटी बढ़ी है, जिससे बैंक अब होम लोन की दर कम कर रहे हैं। कई बैंक तो इसकी शुरुआत भी कर चुके हैं। ऐसे में, एनएचबी का टारगेट बढ़ने से और फायदा होगा। इससे रियल एस्‍टेट मार्केट में गतिविधियां बढ़ेगी और खरीददारी होगी। नोटबंदी के बाद मार्केट पूरी तरह सुस्‍त पड़ी है, लेकिन उम्‍मीद है कि अब मार्केट सेंटिमेंट्स में अच्‍छा खासा सुधार होगा।
 
रूरल हाउसिंग से मिलेगा बूस्‍ट
 
फाइनेंस मिनिस्‍टर अरुण जेटली ने रूरल हाउसिंग का टारगेट भी बढ़ा दिया है, इससे रियल
एस्‍टेट सेक्‍टर में कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर को फायदा होगा।
 
* लेखक महेंद्र गोयल एसोटेक रियल्‍टी के डायरेक्‍टर हैं। 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY