Home »Economy »Policy» Finance Minister Says Small Business With Turnover Of Rs 2 Cr To Get Tax Benefits

छोटे कारोबारियों को राहत, कैशलेस कारोबार पर 46 फीसदी तक कम होगा टैक्स

नई दिल्ली। फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने छोटे कारोबारियों को बड़ी राहत दी है। कैशलेस कारोबार करने वाले छोटे कारोबारियों को 30 फीसदी तक कम टैक्स देना होगा। इस दायरे में वे कारोबारी आएंगे, जिनका सालाना कारोबार 2 करोड़ रुपए तक है। कैशलेस कारोबार पर उन्हें टैक्स बेनेफिट मिलेगा। जेटली ने कहा है कि 2 करोड़ तक के कारोबार में अनुमानित प्रॉफिट 12 लाख माना जाएगा। यानी अब 8 फीसदी की जगह उनका अनुमानित प्रॉफिट 6 फीसदी माना जाएगा।  
इसके पहले 2016-17 के बजट में घोषणा की गई थी कि जिन छोटे कारोबारियों का सालाना करोबार 2 करोड़ रुपए है, माना जाएगा कि उन्हें 8 फीसदी की इनकम होती है। इसी को टैक्सेबल माना जाएगा। लेकिन अब अगर ये कारोबारी कैशलेस कारोबार करेंगे तो 2 करोड़ के सालाना कारोबार पर 6 फीसदी इनकम मानी जाएगी। अब उन्हें इसी इनकम पर टैक्स देना होगा।
 
डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त कदम उठाए 
उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए भी पर्याप्त कदम उठाया गया है। डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इसत्‍ेमाल बढ़ा है, वहीं लोग अब ई-वॉलेट का भी ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं। 
 
आरबीआई के पास पर्याप्त कैश 
फाइनेंस मिनिस्ट अरुण जेटली ने कहा है कि नोटबंदी को लेकर हम पहले से तैयार थे। कोई ऐसा दिन नहीं था जब आरबीआई ने बैंकों  को पर्याप्त पैसा नहीं दिया। उन्होंने कहा कि‍ आरबीआई के पास पर्याप्त कैश है। जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी। 
 
एक्सिस बैंक मामले में होगी कार्रवाई 
जेटली ने कहा है कि नोटबंदी के बाद गैरकानूनी गतिविधियों में शामिल बैंक अधिकारियों के खिलाफ संबंधित बैंकों से कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जिसके पास पुराने नोट हैं वह एक बार में बैंक जाकर जमा करा दे, अगर कोई रोज-रोज जाता है तो शक होता है।

 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY