Home »Economy »International» Indian American Sandeep Matharani 4th On Overpaid CEOs List In US

ओवरपेड सीईओ की सूची में भारतीय-अमेरि‍की संदीप मथरानी चौथे नंबर पर

ओवरपेड सीईओ की सूची में भारतीय-अमेरि‍की संदीप मथरानी चौथे नंबर पर
ह्यूसटन। शि‍कागो की एक प्रॉपर्टी फर्म के भारतीय-अमेरि‍की सीईओ संदीप मथरानी अमेरि‍का के उन 25 सीईओ की सूची में चौथे स्‍थान पर हैं, जि‍न्‍हें ‘ज्‍यादा’ वेतन मि‍लता है। संदीप जनरल ग्रोथ प्रॉपर्टीज के सीईओ हैं। यह रि‍पोर्ट एक गैर सरकारी आर्गनाइजेशन ‘As You Sow’ ने तैयार की है। संस्‍था ने अमेरि‍का के 25 ओवरपेड सीईओ की लि‍स्‍ट तैयार की है।
 
रि‍पोर्ट के मुताबि‍क, संदीप को 2016 में कुल 3.92 करोड़ डॉलर का वेतन मि‍ला था और यह 2.36 करोड़ ज्‍यादा है। इस संगठन ने सीईओ की परफॉर्मेंस और अन्‍य कुछ मानदंडों के हि‍साब से उनके वेतन की तुलना कर यह आकलन कि‍या है कि‍ कि‍स सीईओ को जरूरत से ज्‍यादा और कि‍स सीईओ को उनकी परफॉर्मेंस से कम वेतन मि‍लता है।  
 
परफॉर्मेंस और वेतन में गैप के आधार पर ही रैंक तैयार की गई है। इसमें सीबीएस के सीईओ लेज्‍ली मूनवेस का नाम भी ऐसे लोगों के तौर पर शामि‍ल कि‍या गया है, जि‍न्‍हें ज्‍यादा वेतन मि‍लता है। इन्‍हें नंबर वन की पोजीशन पर रखा गया है। मूनवेस को 2016 में 5.67 करोड़ डॉलर का वेतन मि‍ला है।
 
सेल्‍सफोर्स के मार्क बेनि‍ऑफ को सूची में दूसरे स्‍थान पर रखा गया है। उन्‍हें बीत साल 3.34 करोड़ डॉलर वेतन के तौर पर मि‍ला। इसी तरह से डि‍स्‍कवरी कम्‍युनि‍केशन के डेवि‍ड जासलाव को इस सूची में तीसरे स्‍थान पर रखा गया है। इन्‍हें 2016 में 3.24 डॉलर वेतन के तौर पर मि‍ले थे।
रि‍पोर्ट कहती है कि‍ इन सीईओ को न केवल ज्‍यादा वेतन दि‍या गया बल्‍कि‍ उनकी कंपनि‍यों ने एसएंडपी 500 इंडेक्‍स पर कम परफॉर्म कि‍या। इसलि‍ए यह भी संभव है कि‍ जो रि‍टर्न शेयरहोडल्‍डर्स को मि‍लना था उसका कुछ हि‍स्‍सा इन सीईओ को चला गया।
 
इन 25 सीईओ की सूची में 15 ऐसे हैं जि‍नका नाम दोबारा शामि‍ल कि‍या गया है और 10 ऐसे हैं जि‍नका नाम तीसरी बार इस लि‍स्‍ट में आया है। मथरानी ने वर्ष 2010 में दि‍वालि‍यापन से उभरी जनरल ग्रोथ प्रॉपर्टीज की कमान संभाली थी। ट्रंप प्रशासन में कि‍सी बड़ी पोजीशन के लि‍ए उनका नाम कई बार सामने आया था। यह कंपनी 40 राज्‍यों में करीब 126 रि‍टेल प्रॉपर्टीज को ऑपरेट करती है। इसका हेडक्‍वार्ट शि‍कागो में है और इसमें 1800 कर्मचारी हैं।

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY