Home »Economy »Infrastructure» Govt Will Bring Aviation Sector Into Multi-Modal Hubs, Says Minister

मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स हब का हिस्सा बनेगा एविएशन सेक्‍टर: गडकरी

मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स हब का हिस्सा बनेगा एविएशन सेक्‍टर: गडकरी
 
नई दिल्‍ली। एविएशन सेक्‍टर को अब देश में मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स हब का हिस्सा बनाया जाएगा। अभी तक हाइवे, पोर्ट, शिपिंग और रेलवे ही मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स हब का हिस्सा हैं, लेकिन सरकार ने अब एविएशन को भी इससे जोड़ने का निर्णय लिया है। इसके लिए सरकार ने एक इंटिग्रेटिड पॉलिसी तैयार की है। सरकार को उम्‍मीद है कि इससे ट्रांसपोर्टेशन कॉस्‍ट लगभग आधी हो जाएगी।
 
50 हजार करोड़ के इन्‍वेस्‍टमेंट की उम्‍मीद
 
बुधवार को इस आशय की जानकारी रोड एंड ट्रांसपोर्ट मिनिस्‍टर नितिन गडकरी ने दी। उन्‍होंने बताया कि 3 से 5 मई को पहले इंटिग्रेटिड ट्रांसपोर्ट एंड लॉजिस्टिक्‍स समिट का आयोजन किया जाएगा, जिसमें इस पॉलिसी का खुलासा किया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि इस समिट में 50,000 करोड़ रुपये का इन्‍वेस्‍टमेंट आने की उम्मीद है।
 
ट्रांसपोर्टेशन कॉस्‍ट कम होगी
 
मंत्री ने कहा कि भारत एक बढ़ती अर्थव्यवस्था है और लॉजिस्टिक्स की कॉस्‍ट का इस पर नेगेटिव इम्‍पैक्‍ट पड़ता है। यह कॉस्‍ट फिलहाल जीडीपी के 14 प्रतिशत के बराबर है। नई नीति के बनने से और इसके लागू होने से देश में माल ढुलाई की लागत करीब आधा रह जाएगी और भारतीय उत्पादों के लिए विश्व बाजार में ज्यादा कॉम्पिटिशन का माहौल तैयार हो सकेगा।
 
मल्‍टी लॉजिस्टिक पार्क बनेंगे
 
उन्होंने कहा कि इस नीति के तहत देश में 50 इकोनॉमिक कॉरिडोर की स्थापना करने और माल ढुलाई के लिए इंटरस्‍टेट कॉरिडोर के रूट में सुधार किया जाएगा। इसके तहत 35 मल्‍टी लॉजिस्टिक पार्क भी विकसित किए जाएंगे। इसके लिए 191 शहरों और कस्बों की भी पहचान का काम पूरा कर लिया गया है।
 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY