Home »Economy »Banking» Deputy Governor Says Remonetisation Pace Quick Should Be Completed In 2 To 3 Months

इस क्वार्टर में कुछ सेक्टर्स पर दिखेगा नोटबंदी का असर, कैश की स्थिति होगी नॉर्मलः RBI

इस क्वार्टर में कुछ सेक्टर्स पर दिखेगा नोटबंदी का असर, कैश की स्थिति होगी नॉर्मलः RBI
नई दिल्‍ली।नोटबंदी का असर कुछ सेग्मेंट में अगली तिमाही में नजर आ सकता है, जहां तक कैश की आपूर्ति की बात है तो यह अगले 2 से 3 माह में सामान्‍य हो जाएगी। हालांकि रिजर्व बैंक की तरफ से बाजार उतना कैश नहीं आएगा जितना पहले चलन में था।
 
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के डिप्‍टी गवर्नर विरल आचार्य ने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। उन्‍होंने कहा कि नोटबंदी के पहले बाजार में नकदी ज्‍यादा थी, लेकिन नोटबंदी के बाद से स्थिति बदली है। लोग ऑनलाइन ट्रांजैक्‍शन कर रहे हैं और नकदी का इस्‍तेमाल कम हो रहा है। दूसरी तरफ आरबीआई बाजार में तेजी से नकदी को बढ़ा रहा है। उम्‍मीद है कि बाजार की जरूरत भर की नकदी अगले 2 से 3 माह में उपलब्‍ध करा दी जाएगी। लेकिन यह अनुपात पहले से कम होगा, क्‍योंकि अब बाजार में उतनी नकदी की जरूरत नहीं है।
 
आचार्य ने कहा कि जहां नोटबंदी के असर की बात है तो यह अगली तिमाही में कुछ सिगमेंट में दिख सकता है। लेकिन इन्‍होंने कहा कि समग्र रूप से देखा जाए तो नोटबंदी का असर काफी सकारात्‍मक है। आने वाले समय में इसके फायदे नजर आएंगे। 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY