Home »Personal Finance »Loans »Update» ICICI Benefit From The Interest

ब्याज से आईसीआईसीआई लाभ में

ब्याज से आईसीआईसीआई लाभ में

कैसे हुआ संभव
कर्जों व उसकी शुद्ध ब्याज आय में खासी बढ़ोतरी होने से ही उसका मुनाफा इस हद तक बढ़ पाया है

परिचालन में सुधार की बदौलत तीसरी तिमाही में बैंक का प्रदर्शन बेहतर रहा है। मुझे उम्मीद है कि अग्रिम राशि के मोर्चे पर हमारे बैंक का प्रदर्शन उद्योग औसत से बेहतर रहेगा- चंदा कोचर एमडी एवं सीईओ, आईसीआईसीआई बैंक

आईसीआईसीआईबैंक ने वित्तीय मोर्चे पर शानदार प्रदर्शन किया है। देश के इस सबसे बड़े निजी बैंक ने चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 2250 करोड़ रुपये का स्टैंडअलोन शुद्ध मुनाफा कमाया है। यह बीते वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में अर्जित शुद्ध लाभ के मुकाबले 30 फीसदी अधिक है।

इस तरह बैंक ने बाजार उम्मीदों से कहीं बेहतर प्रदर्शन किया है। बैंक द्वारा दिए गए कर्जों और इसकी शुद्ध ब्याज आय में खासी बढ़ोतरी होने से ही यह संभव हो पाया है। बैंक की एसेट की क्वालिटी बेहतर होने से भी बेहतरी सुनिश्चित हुई है।

आईसीआईसीआई बैंक का कंसोलिडेटेड शुद्ध मुनाफा दिसंबर तिमाही में 2645 करोड़ रुपये रहा जो पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में अर्जित शुद्ध लाभ की तुलना में 22 फीसदी ज्यादा है। आईसीआईसीआई बैंक ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में यह भी बताया है कि तीसरी तिमाही में उसका शुद्ध ब्याज मार्जिन 0.37 फीसदी बढ़कर 3.07 फीसदी के स्तर को छू गया।

इस दौरान बैंक की कुल अग्रिम राशि 16 फीसदी बढ़कर 2,86,766 करोड़ रुपये पर जा पहुंची, जबकि खुदरा अग्रिम रकम 17 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 96,528 करोड़ रुपये हो गई।
आईसीआईसीआई बैंक का प्रदर्शन फंसे कर्जों (एनपीए) के मोर्चे पर भी अच्छा रहा है।

इस दौरान बैंक का शुद्ध एनपीए अनुपात एक साल पहले के 0.70 फीसदी से सुधर कर 0.64 फीसदी हो गया। यही नहीं, तिमाही आधार पर भी बैंक ने इस लिहाज से बेहतरी दर्शाई है। दरअसल, चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में बैंक का शुद्ध एनपीए अनुपात 0.66 फीसदी था। आईसीआईसीआई बैंक का पूंजी पर्याप्तता अनुपात इस दौरान 19.53 फीसदी रहा।

आईसीआईसीआई बैंक की एमडी एवं सीईओ चंदा कोचर ने कहा, 'परिचालन में सुधार की बदौलत तीसरी तिमाही में बैंक का प्रदर्शन बेहतर रहा है। मुझे उम्मीद है कि अग्रिम राशि के मोर्चे पर हमारे बैंक का प्रदर्शन बैंकिंग उद्योग के औसत से बेहतर रहेगा।'

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY