CORPORATE
Home » News Room » Corporate »Inside Pics Of Vijay Mallya's Yacht Kalizma
Ronald Reagan
लोग कम टैक्स नहीं चुकाते, दरअसल सरकारें खर्च बहुत करती हैं।
माल्या के इस जहाज के बिस्तर पर शोभा ने बिताई हैं कई 'हसीन' रातें, देखिए PICS

दुनिया में दौलतमंदों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। ऐसे में इन दौलतमंदों को रिहायशी सुख देने वाले नए-नए साधन भी तेजी से बढ़ रहे हैं। इन्हीं में से एक साधन है आलीशान प्राइवेट बिजनेस याच (पानी का जहाज)। जो जितना अमीर उसके पास है उतना बेहतरीन निजी याच।

भारतीय धनकुबेरों के प्राइवेज बिजनेस याच का शौक यूं तो पहले से ही जगजाहिर है। लेकिन बात अगर विजय माल्या के प्राइवेट बिजनेस याच की हो तो फिर क्या कहने। विजय माल्या के पास कई याच हैं। इनमें से ही एक है कल्जिमा।

दुनिया के सबसे मशहूर याच में से एक कल्जिमा को सबसे पहले 1906 में लॉन्च किया गया था। हालांकि, माल्या से पहले वाले मालिक के चलते यह याच एकदम से ग्लोबल लेवल पर चर्चा में आया। रिचर्ड बर्टन और एलिजाबेथ टेलर इसके दूसरे मालिक थे। सिंबल ऑफ लव के चलते बर्टन ने इसे अपनी पत्नी और खुद के प्रेम की निशानी के तौर पर खरीदा था।

1995 में दिग्गज कारोबारी और लग्जरी लाइफस्टाइल जीने वाले माल्या ने कल्जिमा को खरीद लिया। 2001 में एक पब्लिकेशन में इस याच को लेकर उन्होंने कहा था कि अल्जिमा को रिस्टोर करने के लिए माल्या ने 30 लाख डॉलर खर्च किये। उस समय इसकी कीमत 48 करोड़ रुपये थी। आज के समय में इसकी कीमत कई गुना बढ़ चुकी है।

माल्या 'सिंबल ऑफ लव' कहलाये जाने वाले इस याच को इतना प्यार करते हैं कि उन्होंने इसे कभी भी न बेचने का मन बना लिया है। दौलतमंदों के भोगविलास के लिए अल्जिमा में एक से बढ़कर एक कई आलीशान फीचर्स हैं।

याच में 1 इनस्वीट स्टेट रूम, 4 इनस्वीट कैबिन, डाइनिंग रूम, सैलून, मॉर्डन गैलरी, एयर जकूजी और एक खूबसूरत मेन डेक है। इसमें बने 4 इनस्वीट कैबिन में से 2 सिंगल और 2 डबल है। 105 साल पुरानी इस याच में रिडिंग के लिए लाइब्रेरी, एंटरटेनमेंट के सभी साधन और वॉटर इक्यूप्मेंट भी दिए गए हैं।

ऐसा कहा जाता है कि जब माल्या ने यह याच खरीदा था तब वो जहां इसके मालिक बनकर गर्व महसूस कर रहे थे। वहीं, देश-दुनिया के बाकी कारोबारियों को इससे जलन महसूस हो रही थी।


बर्टन और एलिजाबेथ के इस सिंबल ऑफ लव को लेकर कई बातें भी कही जाती रहीं हैं। सोशलाइट और लेखिका शोभा डे ने अपने एक कॉलम में लिखा है कि उन्होंने एलिजाबेथ के इस जहाज पर जिंदगी का मजा लिया है।

डे का कहना है कि वो और उनके पति ने माल्या के इस जहाज के उसी बिस्तर पर कुछ रातें बिताईं हैं, जहां कभी बर्टन और एलिजाबेथ लेटते थे। डे ने माल्या को शुक्रिया भी अदा किया है।

आगे की स्लाइड पर देखें याच के अंदर के नजारें जिसके बिस्तर पर शोभा डे ने कई रातें बिताईं।

(दुनियाभर का ताजा हाल जानने के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें)

Email Print Comment