LATEST NEWS
Home » Property » Latest News »कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की खरीदारी में रहें सचेत
Richard Branson
जीवन में जो चीज रोमांचित करे उसे पूंजी में बदल देना ही उद्यमिता है।
कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की खरीदारी में रहें सचेत

कॉमर्शियल प्रॉपर्टी खरीदने के लिए लें रिसर्च फर्म की मदद
इसमें निवेश करने का मकसद होना चाहिए पहले से स्पष्ट
डेवलपर के बारे में कर लें पूरी पड़ताल
कॉमर्शियल प्रॉपर्टी खरीद के दस्तावेज होते हैं काफी जटिल
मेनटेनेंस के लिए डेवलपर से करें समझौता, शुल्क के बारे में पहले से करें पता

वैसे तो हर तरह की प्रॉपर्टी की खरीद में जोखिम होता है पर जब आप कॉमर्शियल प्रॉपर्टी में निवेश कर रहे हों तो मामला और भी पेचीदा बन जाता है। कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की कीमत रेजिडेंशियल की तुलना में कई गुना ज्यादा होती है। तो इसकी खरीदारी में गलती आपको काफी भारी पड़ सकती है। कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की खरीदारी के वक्त कई बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। मसलन मार्केट ट्रेंड, लोकेशन और अन्य बारीकियों के बारे में पहले से पता होना चाहिए। आज हम कुछ ऐसे पहलुओं पर गौर करेंगे जिसकी जानकारी से आपको कॉमर्शियल प्रॉपर्टी लेने में मदद मिलेगी।


निवेश करने का मकसद करें स्पष्ट
जब आप कॉमर्शियल प्रॉपर्टी में निवेश कर रहे हैं तो यह बात पहले से स्पष्&52द्भ;ट होनी चाहिए कि आखिर आप यह निवेश क्यों कर रहे हैं। डेटा एनालिटिक्स फर्म प्रॉप इक्विटी के सीईओ और फाउंडर समीर जसूजा के मुताबिक अगर निवेशक किराए पर देने के लिए कॉमर्शियल प्रॉपर्टी खरीद रहा है तो यह देखना जरूरी है कि उस प्रॉपर्टी के लिए आपको किराएदार मिलेगा या नहीं।


कई बार डेवलपर ही निवेशक को किराएदार उपलब्ध कराते हैं, यह बात भी पहले से स्पष्ट करनी जरूरी है। अगर आप काफी बड़ी प्रॉपर्टी में निवेश कर रहे हैं और डेवलपर आपको किराएदार उपलब्ध नहीं करा रहा है तो यह देखना जरूरी है कि आपके पास उपयुक्त किराएदार ढूंढने का नेटवर्क मौजूद है या नहीं।


फाइनेंसिंग की सुविधा
अगर आप कॉमर्शियल प्रॉपर्टी लेने की तैयारी में है तो याद रहे कि होम लोन और कॉमर्शियल उद्देश्य से दिये जाने वाले लोन में काफी फर्क होता है। आमतौर पर बैंक ग्राहकों को होम लोन देने को लेकर काफी उत्साहित रहते हैं पर कॉमर्शियल प्रॉपर्टी के लिए लोन लेना आसान नहीं होता है। अगर आप कॉमर्शियल प्रॉपर्टी के लिए लोन लेना चाहते हैं तो आपको सभी कर्जदाताओं के बारे में अच्छे से रिसर्च कर लेनी चाहिए जिससे आपको बेहतरीन ऑफर मिल सके। आपको लोन अप्रूव कराने के लिए कौन कौन से दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी यह आपका रियल एस्टेट एजेंट बताएगा।


विक्रेता के बारे में लें जानकारी
जो प्रॉपर्टी आप खरीदना चाहते हैं वह आपको अगर हद से ज्यादा सस्ती मिल रही है तो इस बारे में पड़ताल करना जरूरी है। कॉमर्शियल प्रॉपर्टी खरीदते वक्त याद रखें कि कोई भी व्यक्ति अपनी प्रॉपर्टी घाटे में नहीं बेचता है। अगर कोई ऐसा कर रहा है तो इसके पीछे जरूर होगी। सस्ती प्रॉपर्टी व्यक्ति उसी स्थिति में बेचता है कि जब कि प्रॉपर्टी के लिए कोई खरीदार न मिल रहा हो या कोई अन्य वजह हो। अगर आप ऐसी प्रॉपर्टी में निवेश करते हैं तो भविष्य में आपको घाटा भी उठाना पड़ सकता है।


कीमतों पर रिसर्च के लिए विशेषज्ञ सलाह
जब आप प्रॉपर्टी बाजार में कदम रख रहे हैं तो इस बारे में पूरी रिसर्च करनी बेहद जरूरी है। जसूजा के मुताबिक कॉमर्शियल प्रॉपर्टी डील काफी जटिल होती हैं और साथ ही इसमें रेजीडेंशियल प्रॉपर्टी की तुलना में पारदर्शिता कम होती है। ऐसे में किसी अच्छी रियल एस्टेट रीसर्च फर्म की मदद लेना अक्लमंदी है। रीसर्च फर्म आपकी जरूरत और बजट के हिसाब से प्रॉपर्टी का चुनाव कर देगी।


साथ ही आपको इससे जुड़ी बारीकियों के बारे में सही सलाह मिल सकेगी। इसके अलावा कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की खरीद फरोख्त के एग्रीमेंट काफी जटिल होते हैं और रेजीडेंशियल प्रॉपर्टी खरीद से काफी भिन्न भी। इसमें आपको कई ऐसे क्लॉज मिलेंगे जो रेजीडेंशियल प्रॉपर्टी खरीद के दस्तावेजों में नहीं देखने को मिलते। इस स्थिति में आपको ऐसे वकील की मदद लेनी चाहिए जिसे कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की खरीद फरोख्त में विशेषज्ञता हासिल हो।


मेंटीनेंस के खर्च
प्रॉपर्टी खरीद लेना ही बड़ी बात नहीं होती है उसकी मेंटीनेंस  भी काफी अहम है। कई डेवलपर्स प्रॉपर्टी के साथ उसका मेंटीनेंस  भी उपलब्ध कराते हैं। कॉमर्शियल प्रॉपर्टी का कॉमन एरिया मेंटीनेंस  होता है। यही कारण है कि प्रॉपर्टी खरीदते वक्त यह बात पहले से तय होनी चाहिए कि क्या डेवलपर ही प्रॉपर्टी का मेंटीनेंस  कराएगा या फिर किसी और कंपनी को इसकी जिम्मेदारी सौंपी जाएगी और  इसका शुल्क कितना होगा आदि।


अन्य शुल्क
कॉमर्शियल प्रॉपर्टी की बिजली, पानी की दरें रेजीडेंशियल प्रॉपर्टी की तुलना में काफी ज्यादा होती है। जब आप प्रॉपर्टी किराए पर दे रहे हैं यह देखने भी जरूरी है कि क्या इन शुल्क का भुगतान आपका किराएदार करेगा या फिर आप इसका भुगतान  आपको करना होगा। किसी भी स्थिति में आपको अपनी प्रॉपर्टी का किराया इसी आधार पर तय करना होगा।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
6 + 6

 
Email Print Comment