OTHER
Home » Do You Know » Other »What Is Credit Rating?
Ludwig von Mises
फायदा सफल कदमों का भुगतान है,जिसे बिना मूल्यांकन के बताया नहीं जा सकता।

क्या है क्रेडिट रेटिंग?

Agency | Aug 15, 2013, 00:29AM IST
क्या है क्रेडिट रेटिंग?

क्रेडिट रेटिंग किसी भी देश, संस्था या व्यक्ति आदि की कर्ज लेने या उसे चुकाने की क्षमता का मूल्यांकन होती है। अर्थात कोई व्यक्ति, संस्था या देश आर्थिक रूप से कितना मजबूत है और कितना कर्ज लेने या उसे चुकाने की क्षमता रखता है।

क्रेडिट रेटिंग एजेंसियां किसी देश की साख का मूल्यांकन करते समय उसका आर्थिक विश्लेषण करती हैं। और यह पता लगाती हैं कि वह कितना सक्षम है। ये एजेंसियां किसी भी देश की क्रेडिट रेटिंग तय करते समय कोई निश्चित फार्मूला नहीं अपनाती हैं बल्कि अपने अनुभवों और आंकड़ों का इस्तेमाल करती हैं। वे खुद ही किसी देश या संस्था की रेटिंग तय करती हैं।

ये रेटिंग एजेंसियां रेटिंग तय करते समय आंकड़ों और भविष्य की संभावनाओं का भी ख्याल रखती हैं। हालांकि क्रेडिट रेटिंग जारी करने वाली एजेंसियों पर भी कई तरह के सवाल उठाए जाते हैं लेकिन फिर भी इन एजेंसियों द्वारा जारी की जाने वाली रेटिंग का अलग ही महत्व होता है। क्रेडिट रेटिंग अगर ऊंची होती है तो संबंधित देश या संस्था को कर्ज आदि लेने में ज्यादा दिक्कत नहीं होती है।

ऊं ची क्रेडिट रेटिंग का मतलब है कि संबंधित देश या संस्था की आर्थिक स्थिति मजबूत है और वह जो कर्ज ले रहा है वह सुरक्षित है। यही कारण है कि बड़ी कंपनियां और सभी देश इस बात की कोशिश करते हैं उनकी क्रेडिट रेटिंग हमेशा ऊंची बनी रहे।

आपकी राय

 

क्रेडिट रेटिंग किसी भी देश, संस्था या व्यक्ति आदि की कर्ज लेने या उसे चुकाने की क्षमता का मूल्यांकन होती है।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
6 + 5

 
Email Print Comment