CORPORATE
Home » News Room » Corporate »The Salient Features Of East Delhi Municipal Budget
Peter Drucker
मुनाफा किसी कंपनी के लिए उसी तरह है जैसे एक व्यक्ति के लिए ऑक्सीजन।

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के बजट की खास बातें

बिजनेस भास्कर नई दिल्ली | Jan 25, 2013, 00:03AM IST
पूर्वी दिल्ली नगर निगम के बजट की खास बातें

तरक्की - पूर्वी दिल्ली नगर निगम में 2,030 करोड़ रुपये का प्रस्तावित बजट पेश
निकाय को विशेष पैकेज नहीं, सीनियर अफसर यमुना पार आने को तैयार नहीं

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के बजट की खास बातें

  • : कूड़े के बेहतर प्रबंधन के लिए 70 नए ट्रक खरीदने की योजना पूरी हो चुकी है और जल्द ही ये ट्रक कचरों के निपटान में लग जाएंगे
  • : संकरी गलियों में सफाई कार्य के लिए भैंसा-बुग्गी को लगाया गया है। साथ ही 70 नए ऑटो टिपर्स भी लगाए गए हैं
  • : हर वार्ड में सफाई के लिए पांच रिक्शों के हिसाब से कुल 320 साइकिल रिक्शों का इंतजाम किया गया है
  • : दस साल से अधिक पुराने लोडर्स को बदलने के लिए 15 नए लोडर्स की खरीद-प्रक्रिया शुरू हो गई है
  • : सफाई-व्यवस्था में पारदर्शिता रखने के लिए कूड़ा ढोने में लगे ट्रकों में जीपीएस लगाने की योजना
  • : कूड़े के बेहतर प्रबंधन के लिए करीब 700 कूड़ेदान और इन्हें हटाने के लिए6 नये काम्पैक्टर खरीदने का प्रस्ताव
  • : गाजीपुर सेनेट्री लैंड-फिल में कूड़े को संसाधित कर 10 मेगावाट बिजली उत्पादन करने की योजना
  • : गैस अथॉरिटी की मदद से कचरे से मिथेन गैस के उत्पादन की भी योजना
  • : एक किलोमीटर की परिधि में कम-से-कम एक प्राइमरी स्कूल जरूर हो  ताकि बच्चों को शिक्षा के लिए घर से ज्यादा दूर न जाना पड़े
  • : त्रिलोकपुरी में एक खेल परिसर बनाया जाएगा जिसमें इनडोर और आउटडोर गेम्स की सुविधाएं होंगी

प्राइमरी स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगेंगे
नई दिल्ली - हाल ही एक कॉलेज छात्रा के साथ रेप और हत्या की गंभीर वारदात के आलोक में पूर्वी दिल्ली नगर निगम के प्राइमरी स्कूलों में विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इसके लिए बजट में एक करोड़ का आवंटन किया गया है। छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग देने के लिए पूर्व सैनिकों की नियुक्ति की जाएगी। इसी तरह चौथी और पांचवीं कक्षा के छात्रों को आकाश टैबलेट बांटने की योजना है।

महक सिंह ने पेश किया नए निकाय का पहला बजट
राजधानी दिल्ली की 25 फीसदी आबादी यमुना पार में रहती है और इनमें से अधिकतर आर्थिक रूप से कमजोर हैं मगर दिल्ली सरकार पूर्वी दिल्ली नगर निगम को न विशेष पैकेज दे रही है और न ही अविभाजित निगम के सीनियर अफसर इस इलाके में आना चाहते हैं।

विकास के ढेर सारे कार्य का मंसूबा पालकर भाजपा शासित पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने अपने बजट में 25 फीसदी की बढ़ोतरी कर 2013-14 के लिए 2030.46 करोड़ रुपये के खर्च का बजट पेश किया है। अविभाजित दिल्ली नगर निगम में पूर्वी दिल्ली के लिए 2012-13 में महज 1550.99 करोड़ रुपये का बजट था।

स्थायी समिति के चेयरमैन महक सिंह ने पटपडग़ंज स्थित डीएसआईडीसी भवन स्थित पूर्वी दिल्ली नगर निगम के हॉल में यमुना पार के लिए पहला बजट पेश करते हुए नाम लिये बगैर शीला सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पूर्वी दिल्ली में पृथक नगर निगम बनने के बाद ढेर सारी समस्याएं आईं।

भरोसा देने के बावजूद इस नगर निकाय को विशेष पैकेज (दिल्ली सरकार से)नहीं मिला। उन्होंने महापौर डॉ. अन्नपूर्णा मिश्रा और आयुक्त एस. एस. यादव के सामने खुलासा किया कि अविभाजित एमसीडी के जितने भी सीनियर अफसर थे वे पूर्वी दिल्ली में आना नहीं चाहते थे।

अन्य निगमों की तुलना में पूर्वी दिल्ली के निकाय को पर्याप्त स्टाफ नहीं मिला। अगर अधीनस्थ कर्मचारी ही नहीं होंगे तो दफ्तर में काम क्या होगा? बहरहाल, उन्होंने कहा कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने सारी चुनौतियों को स्वीकार किया और धीरे-धीरे हमने बेहतर नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराईं।

पूर्वी दिल्ली राजधानी का सबसे पिछड़ा इलाका है और इसमें भी यमुना पार में उत्तरी क्षेत्र का अनियोजित विकास हुआ। अधिकतर कॉलोनियां निजी रूप से विकसित की गईं। सार्वजनिक सुविधाओं के लिए जगह नहीं छोड़ी गईं। बहरहाल, यह निकाय आबादी के सबसे घनत्व वाले इलाके में तरक्की का काम लगातार कर रहा है।
 

आपकी राय

 

हाल ही एक कॉलेज छात्रा के साथ रेप और हत्या की गंभीर वारदात के आलोक में पूर्वी दिल्ली नगर निगम के प्राइमरी स्कूलों में विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
5 + 3

 
Email Print Comment