CORPORATE
Home » News Room » Corporate »The Plus Sign In The Display Booby Boss
Jim Cramer
दुनिया में डर कर किसी ने एक चवन्नी भी नहीं कमाई।
Breaking News:
  • वित्त वर्ष 2013-14 के लिए जीडीपी ग्रोथ 4.7 फीसदी से संशोधित होकर 6.9 फीसदी का अनुमान
  • वित्त वर्ष 2012-13 में संशोधित जीडीपी 5.1 फीसदी
  • जीडीपी गणना के लिए नया आधार वर्ष 2011-12 किया जाएगा : टीसीए अनंत, मुख्यु सांख्यिकी अधिकारी

ज्यादा लंबे हस्ताक्षर वाले बॉस निकले फिसड्डी

बिजनेस ब्यूरो | Feb 10, 2013, 15:30PM IST
ज्यादा लंबे हस्ताक्षर वाले बॉस निकले फिसड्डी

शोध के नतीजे
जिन सीईओ के हस्ताक्षर बड़े होते हैं वे ज्यादातर ऐसी कंपनियों को चला रहे हैं जो अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही हैं
बड़े हस्ताक्षर वाले सीईओ वेतन भी अपने दूसरे समकक्षों से ज्यादा पा रहे हैं, भले ही उनका प्रदर्शन खराब ही क्यों न हो
ऐसे सीईओ अपनी क्षमता और प्रदर्शन से बनाई राय को सबसे ऊपर रखते हैं और साथियों की क्षमता को खारिज करते हैं

क्या आपका हस्ताक्षर भी आपके व्यक्तित्व का दर्पण होता है? यदि अमेरिका में किए गए एक अध्ययन पर यकीन करें तो यह बिल्कुल सही है। अमेरिका में 605 कंपनियों के सीईओ के हस्ताक्षरों का तुलनात्मक अध्ययन करने पर यह निष्कर्ष निकला है कि जो बॉस बहुत लंबे हस्ताक्षर करते हैं वे ज्यादा आत्ममुग्ध व्यक्तित्व वाले होते हैं। यह बॉस (महिला या पुरुष जो भी हो) निर्णय लेने की क्षमता में भी कमजोर होता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ नॉर्थ कारोलिना स्थित फिनान फ्लागलर बिजनेस स्कूल के शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन सीईओ के हस्ताक्षर बड़े होते हैं वे ज्यादातर ऐसी कंपनियों को चला रहे हैं जो अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही हैं। लेकिन विडंबना यह भी है कि बड़े हस्ताक्षर वाले सीईओ वेतन भी ज्यादा पा रहे हैं, भले ही उनका प्रदर्शन खराब ही क्यों न हो।

यह अध्ययन करने वाले प्रोफेसर चाल्र्स हैम, निकोलस सेबर्ट और सिएन वांग ने नार्सिसिस्टिक (आत्ममुग्ध) शब्द का उपयोग उन सीईओ के लिए किया है जिनमें बहुत अहम भाव होता है और दूसरों के प्रति सम्मान की भावना नहीं रखते हैं।

ऐसे सीईओ अपनी क्षमता और प्रदर्शन से बनाई गई राय को ही सबसे ऊपर रखते हैं और बहुत ज्यादा संभव होता है कि वे दूसरों की राय या क्षमता को खारिज करते हैं। दूसरों से मिला फीडबैक (प्रतिपुष्टि) उनके लिए कोई मायने नहीं रखती है। उनकी ये प्रवृत्तियां उनको खराब फैसले लेने वाला बना देती हैं क्योंकि वे अपने दूसरे सहयोगियों की उपयुक्त राय या महत्वपूर्ण आंकड़ों को भी खारिज कर देते हैं।

एबीसी न्यूज की रिपोर्ट में कहा गया है कि हस्ताक्षर के आकार को लेकर किया गया यह पहला ऐसा अध्ययन है। बड़े हस्ताक्षर और खराब फैसले लेने के बीच संबंध पता करने वाला भी यह पहला अध्ययन है। जिन सीईओ के हस्ताक्षर सबसे लंबे पाए गए वे रिसर्च एंड डेवलपमेंट और परिसंपत्तियों के अधिग्रहण पर ज्यादा जोर देते हैं।

आपकी राय

 

क्या आपका हस्ताक्षर भी आपके व्यक्तित्व का दर्पण होता है? यदि अमेरिका में किए गए एक अध्ययन पर यकीन करें तो यह बिल्कुल सही है।

  
KHUL KE BOL(Share your Views)
 
Email Print Comment