STOCKS
Home » Market » Stocks »NTPC Share Sale Ahead Of FII
Humphrey B Neill
जब बाजार में तेजी हो तो अपना दिमाग न लगाएं।
Breaking News:
  • Meis और Seis इन दोनों स्कीमों का सेज को भी होगा फायदा
  • नई पॉलिसी में दो नई योजनाओँ Meis और Seis का ऐलान
  • इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर की अड़चनों को दूर करना बड़ी चुनौती
  • बेहतर प्रोडक्‍ट क्‍वालिटी पर फोकस करना होगा: वाणिज्य मंत्री
  • उत्‍पाद और सर्विस को बेहतर बनाने की जरूरत: वाणिज्य मंत्री
  • व्‍यापार को आसान बनाने के लिए हर संभव कदम उठाएंगे: वाणिज्य मंत्री
  • नई पॉलिसी से मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस दोनों सेक्टर को बढ़ावा मिलेगा: वाणिज्य मंत्री
  • भारत को 2020 तक व्यापार का बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं: वाणिज्य मंत्री
  • 2015-2020 के लिए लॉन्च हुई नई नीति
  • नई विदेश व्यापार नीति का ऐलान

एनटीपीसी शेयर सेल में एफआईआई आगे

बिजनेस ब्यूरो | Feb 09, 2013, 03:24AM IST

गुरुवार को हुई एनटीपीसी की शेयर सेल में सबसे ज्यादा खरीदारी विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने की है। एनटीपीसी के ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के तहत जारी कुल शेयरों में से 44.92 फीसदी विदेशी निवेशकों ने ही खरीदे हैं। इनमें भी सबसे बड़ी भागीदारी सिंगापुर स्थित जीआईसी की रही है, जिसने 1,000 करोड़ रुपये मूल्य से ज्यादा के शेयर खरीदे हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एनटीपीसी की शेयर सेल में 11.05 फीसदी शेयर बैंकों को व 24.87 फीसदी शेयर बीमा कंपनियों को आवंटित किए गए हैं। देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी एवं निवेशक भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) ने इस ओएफएस के तहत 15 फीसदी शेयर खरीदे हैं। जबकि म्यूचुअल फंडों को 8.35 फीसदी शेयर मिले हैं।

एनटीपीसी के ओएफएस के तहत सरकार ने कट ऑफ प्राइस 145.55 रुपये प्रति शेयर तय की है। इस भाव पर 78.32 करोड़़ जारी करने से सरकार को कुल मिलाकर 11,496.39 करोड़ रुपये की राशि मिलेगी।

शुक्रवार को बांबे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) पर एनटीपीसी के शेयर का भाव 0.10 फीसदी की गिरावट के साथ 148 रुपये पर बंद हुआ। बाजार बंद होते समय कंपनी का पूंजीकरण 1,22,032 करोड़ रुपये पर दर्ज किया गया।

ओएफएस के लिए सरकार ने 145 रुपये प्रति शेयर की फ्लोर प्राइस तय की थी। इस ऑफर के तहत 132.84 करोड़ शेयरों के लिए आवेदन आए थे, जो कि कुल जारी 78.32 करोड़ शेयरों का 1.7 गुना बैठता है। शेयरों के लिए आवेदन 145.91 रुपये के औसत भाव पर आए थे।

ओएफएस के पूरा हो जाने के बाद एनटीपीसी में सरकार की हिस्सेदारी घटकर 75 फीसदी पर आ जाएगी। एनटीपीसी की शेयर सेल सफलतापूर्वक पूरी हो जाने के चलते सरकार चालू वित्त वर्ष के दौरान विनिवेश से 21,500 करोड़ रुपये की राशि जुटा चुकी है।

आपकी राय

 

गुरुवार को हुई एनटीपीसी की शेयर सेल में सबसे ज्यादा खरीदारी विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने की है।

Email Print Comment