AGRI
Home » Market » Commodity » Agri »'Frtigeshn Automation' Will Boost Rajasthan
Jim Cramer
दुनिया में डर कर किसी ने एक चवन्नी भी नहीं कमाई।

'फर्टीगेशन ऑटोमेशन' को बढ़ावा देगा राजस्थान

Agency | Aug 14, 2013, 00:18AM IST
'फर्टीगेशन ऑटोमेशन' को बढ़ावा देगा राजस्थान

राज्य में कृषि दक्षता को मिलेगा बढ़ावा

रेतीले राज्य राजस्थान में ड्रिप इरीगेशन सिस्टम को प्रोत्साहित करने के बाद अब राजस्थान सरकार कृषि दक्षता में और सुधार लाने के लिए 'फर्टीगेशन ऑटोमेशन' विधि पर ध्यान दे रही है।

फर्टीगेशन एक ऐसी नियंत्रित सिंचाई प्रणाली है, जिसमें उर्वरक, मिट्टी तत्व या अन्य जल घुलनशील पदार्थों की सुनिश्चित मात्रा होती है, जोकि कृषि उत्पादन दक्षता में वृद्धि के साथ ही पर्यावरण प्रदूषण को कम करता है।

फर्टीगेशन ऑटोमेशन प्रणाली पर आयोजित सेमिनार में बोलते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कृषि क्षेत्र राज्य सरकार की प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर है और किसानों की दक्षता बढ़ाने के लिए कई प्रकार के कदम उठाए गए हैं। आज राज्य स्प्रिंकल व ड्रिप सिंचाई में सबसे आगे है। उन्होंने कहा कि अब हमारा लक्ष्य राज्य में फर्टीगेशन ऑटोमेशन को बढ़ावा देना है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान और इजराइल दोनों की जलवायु परिस्थितियां एकसमान हैं और इजराइल में विकसित तकनीक राजस्थान के लिए भी काफी उपयोगी होगी। फर्टीगेशन ऑटोमेशन तकनीक राजस्थान के किसानों की कृषि दक्षता बढ़ाने में मददगार होगी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इजराइल के साथ मिलकर खारे पानी से सिंचाई प्रबंधन पर भी कार्य कर रही है। बागवानी विभाग के प्रमुख सचिव दिनेश कुमार गोयल ने कहा कि वर्ष 2012-13 में कुल लक्षित 2500 एकड़ क्षेत्र में से 1960 एकड़ क्षेत्र को ऑटोमेशन तकनीक के तहत कवर कर लिया गया है।

उन्होंने कहा कि 25 से अधिक प्रोग्रेसिव किसानों को इस प्रणाली के बारे में प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जिससे वे आगे इस प्रणाली का प्रचार करेंगे और इसका और विस्तार हो सकेगा। राजस्थान सरकार व एम्बेंसी ऑफ इजराइल के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस सेमिनार में इजराइल के जल विशेषज्ञ उरी साहनी ने भविष्य की कृषि और सिंचाई क्षमता पर व्याख्यान दिया।

आपकी राय

 

रेतीले राज्य राजस्थान में ड्रिप इरीगेशन सिस्टम को प्रोत्साहित करने के बाद अब राजस्थान सरकार कृषि दक्षता में और सुधार लाने के लिए 'फर्टीगेशन ऑटोमेशन' विधि पर ध्यान दे रही है।

  
KHUL KE BOL(Share your Views)
 
Email Print Comment