CORPORATE
Home » News Room » Corporate »Delhi Police Should Be More Alert For Woman Security
Peter Drucker
मुनाफा किसी कंपनी के लिए उसी तरह है जैसे एक व्यक्ति के लिए ऑक्सीजन।

महिला सुरक्षा के लिए दिल्ली में पुलिस और सतर्क हो

बिजनेस भास्कर नई दिल्ली | Jan 26, 2013, 01:00AM IST
महिला सुरक्षा के लिए दिल्ली में पुलिस और सतर्क हो

16 दिसम्बर, 2012 को हुई गैंगरेप की घटना से दिल्ली के इतिहास पर दाग लग गया। दिल्ली पुलिस को और अधिक सक्रिय और सतर्क बनाए जाने की जरूरत है जिससे महिलाओं समेत नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।
शीला दीक्षित , मुख्यमंत्री दिल्ली

> छत्रसाल स्टेडियम में 64वां गणतंत्र दिवस मनाया गया
> बतौर सीएम लगातार 15वीं बार तिरंगा फहराने वाली उत्तर भारत की पहली मुख्यमंत्री बनीं शीला

दिल्ली में शुक्रवार को छत्रसाल स्टेडियम 64वां गणतंत्र दिवस मनाया गया। मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने राज्यस्तरीय समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। शीला गणतंत्र दिवस पर बतौर मुख्यमंत्री लगातार 15 वीं बार राष्ट्रीय ध्वज फहराने वाली उत्तर भारत की पहली मुख्यमंत्री बन गई हैं।

उन्होंने मैदान में परेड और गॉड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया और दिल्ली पुलिस, दिल्ली होम गार्ड, दिल्ली अग्निशमन सेवा, सिविल डिफेंस, एनसीसी और स्कूली बच्चों की टुकडिय़ों की सलामी ली।

इस अवसर पर दीक्षित ने कहा कि  एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं वाला नव-विकसित कश्मीरी गेट बस अड्डा शीघ्र चालू होगा। इससे दिल्ली की छवि को चार चांद लग जाएंगे। दिल्ली को भूख मुक्त राज्य बनाने के लिए अन्न श्री योजना शुरू की गई जिसे आधार के जरिए सीधे नकद हस्तांतरण से संचालित किया जा रहा है।

इस माध्यम से योजना संचालित करने वाला दिल्ली पहला राज्य बन गया है। इससे न केवल हेराफेरी, भ्रष्टाचार और गड़बड़ी पर रोक लगती है बल्कि लाभार्थियों को पूरा लाभ भी पहुंचता है।

मुख्यमंत्री ने 16 दिसम्बर, 2012 की घटना को इतिहास पर दाग बताया। सरकार ने केन्द्र सरकार को यह महसूस कराया है कि दिल्ली पुलिस को और अधिक सक्रिय और सतर्क बनाए जाने की जरूरत है जिससे महिलाओं समेत नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।

दीक्षित ने यह भी कहा कि 140 जेंडर रिसोर्स सेंटर महिलाओं को प्रशिक्षण देकर समाज के उपयोगी और आमदनी वाला सदस्य बनाकर सशक्त बना रहे हैं। दीक्षित ने कहा कि सरकार सार्वजनिक परिवहन को सुधारने और उसका विस्तार करने के सभी प्रयास कर रही है।

डीटीसी हर साल 162 करोड़ यात्रियों को इधर-उधर ले जाता है। सार्वजनिक परिवहन की बसें बढ़ाकर 11,000 करना चाहते हैं। दिल्ली मेट्रो हर रोज 20 लाख लोगों की यात्रा का माध्यम बनती है। मोनो रेल शुरू होने से स्थिति में सुधार होगा और यह मेट्रो की पूरक साबित होगी। तीसरे चरण में मेट्रो का 140 किलोमीटर विस्तार किया जा रहा है। 

दीक्षित ने कहा कि बिजली और पानी के क्षेत्र में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। सफलतापूर्वक 5,600 मेगावॉट अधिकतम मांग पूरी की। एटी एंड सी नुकसान 55 से 15 प्रतिशत कर दिए गए। पिछले साल की सबसे बड़ी उपलब्धि दिल्ली के लिए पॉवर आई लैंडिंग योजना केन्द्र सरकार से मंजूर कराना है।

अब राष्ट्रीय स्तर पर ग्रिड फेल होने पर भी दिल्ली में ब्लैकआउट नहीं होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में पानी की प्रति व्यक्ति प्रतिदिन अधिकतम खपत 220 लीटर है। सरकार ने एक-समान वितरण करने के लिए 100 से ज्यादा यूजीआर बनाए हैं। उन्होंने बिजली और पानी व्यर्थ जाने पर काबू पाने की अपील की। उन्होंने कहा कि दिल्ली मेडिकल टूरिज्म का बड़ा केन्द्र बन रहा है।

विदेशों से बड़ी संख्या में मरीज यहां आते हैं क्योंकि दिल्ली में वाजिब दर पर गुणवत्तापूर्ण उपचार उपलब्ध है। इसके अलावा दिल्ली के अस्पतालों में एक तिहाई मरीज अन्य राज्यों के आते हैं। दिल्ली के अस्पतालों में 43,000 बिस्तर हैं। इसके अलावा 101 नई एम्बुलेंस से गंभीर रोग के मरीजों की बहुमूल्य जिंदगी बचाई जा सकेगी। 

दिल्ली के पांच अस्पतालों को सर्वश्रेष्ठ मान्यता मिली है। इनमें आईएलबीएस, मौलाना आजाद डेंटल कॉलेज, दिल्ली कैंसर इंस्टीट्यूट, इहबास और चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय। दिल्ली ने पांच से ज्यादा नए विश्वविद्यालय बनाए हैं और अब महिलाओं के लिए तकनीकी विश्वविद्यालय खोला जा रहा है।

Light a smile this Diwali campaign

आपकी राय

 

शीला गणतंत्र दिवस पर बतौर मुख्यमंत्री लगातार 15 वीं बार राष्ट्रीय ध्वज फहराने वाली उत्तर भारत की पहली मुख्यमंत्री बन गई हैं।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
4 + 3

 
Email Print Comment